Digamber Jain Community

अद्भुत है दिल्ली का अदृश्य नाभेय जिनालय

(जैनदर्शन और हिन्दू अध्ययन के अध्येताओं ने किया हेरिटेज वॉक ) शैक्षिक भ्रमण, विद्यार्थियों को रोचक तरीके से भारतीय इतिहास,संस्कृति और धर्म को समझने का एक कारगर और आकर्षक उपाय…

Read More

महामुनिश्री भूतबलिसागर जी मुनिराज की सल्लेखनापूर्वक समाधि आष्टा, जिला-सिहोर, मप्र में

सबसे बड़े मुनिराज की समाधि #समाधि_सूचना संत शिरोमणि आचार्यश्री विद्यासागर जी महामुनिराज के शिष्य वर्तमान के मुनियों में सबसे पुराने दीक्षित मुनि पद पर विराजमान उत्कृष्ट चर्यापालक महामुनिश्री भूतबलिसागर जी…

Read More

हवन यज्ञ के साथ हुआ श्री 1008 सिद्धचक्रमहा मण्डल विधान का विधिवत समापन

डीमापुर से 08 किलो मीटर दूर पर अवस्थित असम राज्य के कार्बिआंगलॉन्ग ज़िला, खटखटी नगरी में श्री दि. जैन 1008 चन्द्रप्रभ नवग्रह अरिष्ट निवारक जिनालय में परम पूज्या गणिनी आर्यिका…

Read More

ज्येष्ठ श्रेष्ठ निर्यापक मुनि श्री समय सागर जी को सौंपा जाएगा आचार्य पद

आचार्य पद पदारोहण की अधिकृत तिथि हुई घोषित हटा /- परम पूज्य संतशिरोमणि आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज की गत 18 फरवरी 24 को समतापूर्वक समाधि उपरांत उनकी परम्परा को…

Read More

डॉ. इन्दु जैन राष्ट्र गौरव के व्यक्तित्व से प्रेरित होती है युवा पीढ़ी

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर विशेष -: धार्मिक, सामाजिक, मीडिया एवं अकादमिक की विशेष गतिविधियों से जुड़ीं ,राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय जैनधर्म प्रतिनिधिडॉ० इन्दु जैन राष्ट्र गौरव एक ऐसी शख्सियत हैं जिन्होंने भाषा, लिपि,कला,साहित्य,लेखन,…

Read More

‘जिनधर्म रक्षक’ के सदस्य तत्त्वम् जैन एवं अतिशय जैन ने ‘सर्वधर्म प्रार्थना’ में किया ‘जैनधर्म’ का प्रतिनिधित्व

‘जिनधर्म रक्षक’ के सदस्य तत्त्वम् जैन एवं अतिशय जैन ने ‘सर्वधर्म प्रार्थना’ में किया ‘जैनधर्म’ का प्रतिनिधित्व गांधी स्मृति दर्शन समिति तीस जनवरी मार्ग, दिल्ली के कीर्ति मंडपम् में गिल्ड…

Read More

आचार्य विद्यासागर विश्वविद्यालय की स्थापना की जाय – विद्वत्परिषद्

इन्दौर। 27 फरवरी । श्रमण संस्कृति के महान आचार्य के नाम पर ‘‘आचार्य विद्यासागर विश्वविद्यालय’’ की स्थापना की जाय। ये विचार देश के मूर्धन्य विद्वानों ने एक वर्चुअल मीटिंग में…

Read More

आचार्य श्री १०८ विद्या सागर जी महाराज की विनयांजलि सभा का आयोजन

पैराडाइज हाइट्स सोसायटी अरुणा नगर के संयोजन में आचार्य श्री १०८ विद्या सागर जी महाराज की विनयांजलि सभा का आयोजन अरुणा नगर में किया गया। कार्यक्रम में विजय जैन अंबा…

Read More

समाज में व्याप्त बोली प्रथा में दान नहीं अपितु द्वेष युक्त प्रतिस्पर्धा, दबाव, प्रलोभन,भ्रष्टाचार,आडम्बर व दिखावा हैं-वैज्ञानिक धर्माचार्य श्री कनकनंदी जी गुरुदेव

विषय -दान वैज्ञानिक धर्माचार्य श्री कनकनंदी जी गुरुदेव द्वारा विभिन्न प्राचीन ग्रंथो द्वारा जारी स्वाध्याय के अंश 1.सबसे श्रेष्ठ व उत्कृष्ट हैं आहरदान 2.आहारदान मे गर्भित हैं चारो दान 3.गुरु…

Read More
जिनागम | धर्मसार