प्रथमानुयोग

वात्सल्यरत्नाकर ऋषि के आशीष व श्वेतपिच्छाचार्य श्री विद्यानन्दी जी की प्रेरणा से टला गोम्मटगिरी का संकट-

इंदौर# धर्मनगरी इंदौर में श्वेतपिच्छाचार्य श्री विद्यानन्दी जी गुरुराज के आशीर्वाद से गोम्मटगिरी क्षेत्र का निर्माण हुआ। स्थान नगर से दूर एक टेकरी पर है।सुना जाता है वह टेकरी किसी…

Read More
जिनागम | धर्मसार