प्रथमानुयोग

वात्सल्यरत्नाकर स्वामी के पहले पृथक चातुर्मास में ही गुंज उठी अहिंसा की क्रांति

श्री आदिसागर अंकलिकर स्वामी के अतिशय पट्टाचार्य श्री महावीरकीर्ति जी स्वामी से सन 1950 में क्षुल्लक-ऐल्लक दीक्षा के बाद मुनि दीक्षा लेने के बाद वात्सल्यरत्नाकर श्री विमलसागर जी को श्री…

Read More

षष्ठपट्टाचार्य पूज्य आचार्य श्री 108 ज्ञान सागर जी महाराज का 93वां जेल प्रवचन

– जिला जेल टोंक – आचार्य भगवन ने कैदियों को संबोधित किया तो सभी कैदियो की आंखे भर आयी और सभी ने आचार्यश्री के समक्ष प्रण लिया की जेल से…

Read More

अहिंसा व दया के सागर गुरुवर श्री सुनील सागर जी महाराज द्वारा आज मूक पशुआंे को वात्सल्य आशीष

बांसवाड़ा राज्यस्थान। आचार्य भगवन्त के अटूट भक्तो की नगरी बांसवाड़ा मे मकर सक्रांति की प्रातः शुभ बेला में वागड के सुप्रसिद्ध भामाशाह श्रीमान पंकज जी वकील साहब द्वारा संचालित श्री…

Read More
जिनागम | धर्मसार